श्री हरसिद्धि देवी मंदिर

उज्जैन में प्राचीन व पवित्र स्थानों में श्री हरसिद्धि देवी विशेष महत्वपूर्ण है, दक्ष यज्ञ विध्वंष के पश्चात सती की कोहनी यहा गिरी थी इसलिए तांत्रिक ग्रंथों में इसे शक्तिपीठ व सिद्धपीठ कहा गया है । यह 52 शक्तिपीठों में से एक शक्तिपीठ है । यह देवी सम्राट विक्रमादित्य की आराध्य कुलदेवी रही है । विक्रमादित्य ने यहाँ तपस्या कर उनके दर्शन किये थे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>